black fungus
black fungus

लगातार कोरोना के बढ़ते मामलो के बीच ब्लैक फंगस के नए मरीज सामने आ रहे है।  यूनियन  हेल्थ  मिनिस्टर  Dr. Harsh Vardhan ने भी अपने ट्वीट में यह कहा की “Mucormycosis” जिससे आम भाषा में “ब्लैक फंगस ” भी कहा जाता है उससे हाल ही में Covid -19  patients  में भी देखा गया।  जागरूकता और शीघ्र निदान फंगल संक्रमण के प्रसार को रोकने में मदद कर सकते हैं।”

Mucormycosis क्या होता है

यह एक फंगल इन्फेक्शन है जो कोरोना के उभरे व्यक्ति के साईनल कैविटी से होते हुए उसके फेफड़ो में जाके बैठ जाता है। हमारे एक्सपर्ट्स का यह भी कहना है की उन लोगों में ये तिवत्रता से फैलता है जो पहले से ही किसी बीमारी से जूझ रहे हो या जिनकी इम्युनिटी वीक हो।

किन किन लोगों को है इससे खतरा

Also Read – The Third Wave Coronavirus

मधुमेह, कैंसर और किडनी की बीमारी से ग्रसित मरीजों को ब्लैक फंगस का ज़्यादा खतरा है।  बॉडी में स्टेरॉयड देने से शरीर की इम्युनिटी और कमजोर होती है जिससे खतरा बढ़ जाता है।  

लक्षण क्या क्या है

इस फंगल इन्फेक्शन  के कुछ लक्षण यह है –

बुखार आना

आखों का लाल होना

सर दर्द

खासी

खाना अंदर अटकने में दिक्कत

आइये जाने क्या कहते है Epidemiologist

Epidemiologist का मान न है की मधुमेह पीड़ित व्यत्कि को ब्लैक फंगस का अत्यधिक खतरा है परन्तु अभी इसके गिने चुने मामले सामने आ रहे है। इसके अल्वा स्टेरॉइड्स का सेवन करने वाले भी ब्लैक फंगस का शिकार बन सकते है।

क्या करे

धुल मिटटी वाली जगहों पर जाने से बचे , मिटटी का काम करते समय जुटे, जुराब, ग्लव्स पहने अथवा शरीर को धक् कर रखे।

कैसे करे बचा

शुगर को कण्ट्रोल में रखे।

कोरोना से उभरे लोग अपने ख़ास ख्याल रखे।

steroids ज़्यदा इस्तेमाल न करे।

एंटीबायोटिक और एंटीफंगल दवाई सर्फ डॉक्टर से पुचके ही ले।

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here